Video : भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हाथापाई, जमकर चले लात-घुसे !

0
111

डोकलाम को लेकर भारत और चीन के बीच बढ़ता विवाद अब धीरे-धीरे युद्ध कि तरफ बढ़ता दिख रहा है। हालांकि, मीडिया और सरकार सीमा पर जारी विवाद के संबंध में काफी जानकारी सामने नहीं लेने देती। लेकिन हिन्दी न्यूज चैनल 24 को दोनों देशों के सैनिकों की भिड़ंत का वीडियो मिला है। जिसमें दोनों देशों के सैनिक एक दुसरे के साथ हाथापाई करते दिख रहे हैं !

सेना के अधिकारियों के मुताबिक ये चीनी सैनिक पीपुल लिबरेशन आर्मी के सैनिक थें। मंगलवार (15 अगस्त) को सुबह 6 से 9 के बीच इन चीनी सैनिकों ने भारत की सीमा में घुसने की कोशिश कि जिसे भारतीय सैनिकों नाकाम कर दिया। हालांकि, इस वीडियो में साफ नहीं हो रहा है कि किस तरफ भारत के सैनिक हैं और किस तरफ चीन के। आपको बता दें कि 15 अगस्त के दिन लद्दाख में चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की थी।

भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच हुई हाथापाई नीचे

देखें वीडियो !

सेना के अधिकारियों के मुताबिक ये चीनी सैनिक पीपुल लिबरेशन आर्मी के सैनिक थें। मंगलवार (15 अगस्त) को सुबह 6 से 9 के बीच इन चीनी सैनिकों ने भारत की सीमा में घुसने की कोशिश कि जिसे भारतीय सैनिकों नाकाम कर दिया। हालांकि, इस वीडियो में साफ नहीं हो रहा है कि किस तरफ भारत के सैनिक हैं और किस तरफ चीन के। आपको बता दें कि 15 अगस्त के दिन लद्दाख में चीनी सैनिकों ने घुसपैठ की थी।

भारतीय सेना ने टिप्पणी से किया था इनकार!

गौरतलब है कि भारतीय सेना ने इस पूरे मामले में कोई भी टिप्पणी करने से इंकार कर दिया था। कहा जा रहा है कि जब भारतीय जवानों ने चीनी सैनिकों को जब भगा दिया तो उन्होंने अपनी सीमा से पत्थरबाजी भी की। जिसके जवाब में भारतीय सेना के जवानों ने भी पत्थरबाजी की और इस पत्थरबाजी में दोनों ओर के 2-2 सैनिक घायल हुए हैं। समाचार एजेंसी प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया के मुताबिक इस पूरे मामले पर सेना के प्रवक्ता ने टिप्पणी से इनकार कर दिया है।

भारत-चीन विवाद की शुरुआत !

भारत और चीन के बीच डोकलाम विवाद 16 जून को उस वक्त शुरू हुआ था, जब भारतीय सैनिकों ने इस क्षेत्र में चीनी सैनिकों को सड़क बनाने से रोक दिया था। इसपर चीन ने कहा था कि वह अपने इलाके में सड़क बना रहा है। चीन डोकलाम को अपने डोंगलांग रीजन का हिस्सा बताता है। चीन के सड़क बनाने से भारत की सुरक्षा को गंभीर खतरा है। इस रोड लिंक से चीन को भारत पर एक बड़ी सैन्य सुविधा हासिल होगी। इसलिए भारत इसका विरोध कर रहा है।

दोस्तों आपको किस तरह की खबरे अच्छी लगती है कृपया Comment Box में बताएं, ताकि हम आपके लिए वैसी खबरे लेकर आते रहे !

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here