क्या आपने भी रखा हैं घर के मंदिर में इन बातों का ख़ास ध्यान ?? अगर नही तो जरूर देखें ….

0
445

भारत एक धार्मिक देश है.पूजा पाठ हमारे जीवन का एक अभिन्न हिस्सा है. घर में सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए हम रोज पूजा-पाठ करते हैं.

हम अपने जीवन में सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए घर में देवी-देवताओं की स्थापना करते हैं. घर के मंदिर में नियमित रूप से पूजा करने से शुभ फल प्राप्त होते हैं तथा वातावरण पवित्र रहता  है.शास्त्रों में पूजा करने के कुछ खास नियम बताए गए हैं. इन नियमों का पालन करने पर घर में सुख-समृद्धि एवम् शाँति बनी रहती है. नीचे कुछ ऐसी बातें बताई गईं हैं जो पूजा करते समय ध्यान में रखनी चाहियें.

1: इस दिशा में मुख करके करें पूजा 

हम रोज अपने घर में पूजा करते हैं. पर क्या आपको पता है पूजा करते समय मुख किस दिशा की ओर होना चाहिये.अधिकांश लोगों को ये पता नहीं होता और वे पूजा करने का पूर्ण फल प्राप्त नहीं कर पाते. पूजा करते समय मुख सदैव पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए क्योंकि यह दिशा धन के लिए उतम मानी गयी है.और हाँ, यदि आप विद्यार्थी हैं तो अपना मुख सदैव उतर दिशा की ओर रखें. क्योंकि इस दिशा को ज्ञान दाता के रूप में माना गया है.

2: मंदिर तक पहुंचे सूर्य की किरणें

 

जहां तक सम्भव हो सके घर का मन्दिर ऐसी जगह बनाए जहां सूर्य की रोशनी पहुँच सके. सूर्य की रोशनी नकारात्मक ऊर्जा को खत्म करती है. जिससे घर में सकारात्मक प्रभाव बना रहता है तथा कई दोष शांत रहते हैं.

3:ईशान कोण में बनाए पूजा घर 

 

पूजा घर के निर्माण के लिए सबसे शुभ दिशा उतर-पूर्व यानी ईशान कोण होती है. वास्तु के अनुरूप सकारात्मक प्रवाह इसी दिशा से होकर घर में प्रवेश करता है. जिसके कारण घर में खुशहाली बनी रहती है.

4: पूजा करते समय इन बातों का ध्यान रखें 

 

पूजा करते समय केवल ताज़े फूल, पतों तथा पानी का ही उपयोग करें. भगवान को बासी फूल,पते तथा पानी न अर्पित करें.परन्तु यह बात हमेशा ध्यान रखें कि तुलसी के पते तथा गंगा जल कभी बासी नहीं होता. इनका उपयोग कभी भी किया जा सकता है.यदि कोई फूल सूंघा हुआ है तो वह भी भगवान को अर्पित न करें तथा भगवान शंकर को कभी भी शंख से जल अर्पित न करें .

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here