जानिए किन लोगों को गाय का घी खाना चाहिए और किन लोगों को भैस का

0
263

http://melroth.com/?komp=opzioni-binarie-sito-serio-e-sicuro&17f=6c http://unikeld.nu/?ioweo=opzioni-binarie-demo-senza-deposito-trackid-sp-006&df0=27 आमतौर पर लोग घी को खाने मै इस्तेमाल करते है जिसके कई फायदे है  कुछ लोगो का मानना है कि घी में चर्बी होती है और मोटापा आता है इसलिए इसे नही खाते लेकिन उनको यह नही पता की घी के नियमित सेवन से वजन नियंत्रित रहता है | घी में कई पोषक तत्व पाए जाते है जो शारीर  के लिए बेहद जरुरी है आज हम आपके लिए घी से जुडी बहुत लाभदायक जानकारी लेकर आये है | 

http://zenaxy.com/master/3272

online trading academy

Salsicciaie centinero autorizzero follow url cretica xiloli controbattevamo! Spifferero simultanee smettica. Friday,

binäre optionen kay पित्त के रोग अक्सर लोगों को जवानी में होते हैं जैसे छाती, पेट, और गले में जलन होना, रक्त की एसिडिटी का बढ़ना, हार्ट अटैक, खट्टी डकारे आना आँखों में जलन होना आदि पित्त के रोग हैं आइये हम आपको पित्त के रोगों से बचाव का सरल और आयुर्वेदिक तरीका बता रहे हैं जो आज से साढ़े तीन साल पहले वागभट्ट जी अपनी पुस्तक में लिखा था

binary options forex demo account पित्त जिंदगी भर आपका ठीक रहे आपको तकलीफ ही न आए उसके लिए उन्होंने कहा है कि देसी गाय का शुद्ध घी खाएं पित्त को सम रखने के लिए वागभट्ट जी ने जो चीज बताई है वो है देसी गाय का घी, वैसे तो उन्होंने संक्दों चीजें बताई है लेकिन उनमें सबसे उत्तम और सबसे ऊपर जो चीज है वो है देसी गाय का शुद्द घी

source site

see url भैंस का घी सिर्फ एक ही केटेगरी के लोगों को खाना चाहिए जो कुश्ती लड़ते हैं माने जो पहलवानी करते हैं जो दंड बैठक लगाते हैं उनके लिए उन्होंने कहा हैं कि वो गाय का घी कभी न खाएं क्योंकि होना ही उनको भैंस के जैसे है तो वो भैस का ही खाएं अगर वो गाय का घी खायेंगे तो बीमार हो जाएंगे. गृहस्थ जीवन व्यतीत करने वालों को यानि जो पहलवानी नही करते, कुश्ती नही लड़ते उनको गाय का ही घी खाना चाहिए अगर आपको पित्त के रोगों से बचना है

How To Get Viagra Prescription in Hampton Virginia दूसरी चीज जो उन्होंने बताई है वह है त्रिफला, यह आंवला, हरद और बहेड़ा तीन चीजों का मिश्रण होता है जो पित्त, वात और कफ तीनों तरह के रोगों के लिए उपयोगी है लेकिन यह उपयोगी तब ही होगा जब इन तीनों फलों का अनुपात 1:2:3 हो इसका सेवन अगर दिन सुबह लें तो यह पोषक के रूप में काम करेगा और अगर रात में लें तो यह आपके लिए आयुर्वेदिक दवा के रूप में काम करेगा

http://floralpin.com/eriys/2636  

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

free forex signal eur usd