माइग्रेन अथवा आधासीसी आधुनिक जीवन शैली का एक बुरा रोग !! जानिये इसका रामबाण इलाज़….

0
212

” माइग्रेन आधुनिक जीवन शैली का एक बुरा रोग “

इसके अनेक कारण हैं जिनमे अति भावुकता, मानसिक शारीरिक थकावट, क्रोध, चिंता, आँखों के अधिक थक जाने से, भोजन सम्बन्धी गड़बड़ी, अनपच इत्यादि हैं. इसके लक्षणों में प्रातः उठकर चक्कर आते हैं. आँखों के सामने अँधेरा छा जाता है. इसके रोगी को उल्टी होना, कनपटी में चुभने वाला दर्द होता है. यह दर्द धीरे धीरे फैलता हुआ तेज़ होता जाता है. शोर गुल में ये ज्यादा हो जाता है. उल्टी होने के बाद दर्द कम होता है. सूर्योदय के साथ दर्द बढ़ता है और सूर्य अस्त के साथ साथ ये कम होता जाता है. जिस तरफ दर्द होता है उस तरफ की आँख की पुतली फैली रहती है. यह दर्द प्रायः अनेक वर्षों तक चलता रहता है और  इसका कोई स्थायी इलाज नहीं है बस दवा लेते रहें जिंदगी भर.

आज हम आपको  माइग्रेन के लिए  ऐसे बेहतरीन घरेलु नुस्खे बता रहें हैं जो सदियों से भारतीय घरों में सफलता पूर्वक आजमायें जाते रहें हैं . इस विडियो में सिरदर्द, आधे सर के दर्द का आयुर्वेदिक घरेलु उपचार बताया गया है जिसके द्वारा आपके आधे सर के दर्द की समस्या को जड़ से ख़त्म किया जा सकता है और ये उपाय घरेलु इलाज, घरेलु तरीका बिल्कुत आसान और सस्ता है।

अगले विडिओ में एक और आसान उपाय हैं जरूर देखें ….

अगर हमारा ये लेख पसंद आया तो Comment आपको Box में अपनी राय अवश्य दें !

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here