सनसनीखेज खुलासा : कांग्रेस ने पाकिस्तान से गुपचुप कर लिया था समझोता,लेकिन सेना की वजह से कांग्रेस कामयाब नही हुई !

0
78

एक ऐसा काला सच सामने आया है कांग्रेस का जिसे सुनकर आप सभी चौंक जाओगे.कांग्रेस जब सत्ता में थी तो उसने वो करने का निर्णय ले लिया था जिसके बारे में हम कल्पना भी नहीं कर सकते लेकिन सेना के डटे रहने की वजह से कांग्रेस अपने इन काले मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाई थी !

दुनिया की सबसे ऊंचे जंगी स्‍थान, सियाचिन से सेना हटाने के एक प्रस्‍ताव पर भारत-पाकिस्‍तान की सरकारें साल 2006 में बातचीत कर रही थी.उस समय के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान के साथ समझोता कर लिया था सेना को सियाचिन से हटाने का लेकिन सेना के विरोध की वजह से कांग्रेस अपने इन काले मंसूबों में कामयाब नहीं हो पाई थी.

कांग्रेस के ऊपर इस तरह के पहले भी इल्जाम लगते रहे हैं लेकिन उस समय सभी खबर को झूठ बताते थे लेकिन अब एक अंग्रेजी न्यूज़ चैनल ने कांग्रेस के इन काले कारनामों का भांडा फोड़ दिया है जिसके बाद से ही कांग्रेस की नींद उडी हुई है.जिस तरह से पाकिस्तान कांग्रेस नेता जाकर मोदी को हटाने की मदद मांगता है उससे साफ़ पता चलता है कांग्रेस का पाक प्रेम.

आपकी जानकारी के लिए हम बता दें कि पूर्व विदेश सचिव श्‍याम सरन की आने वाली किताब के हवाले से रिपब्लिक टीवी ने यह दावा किया है.चैनल ने दावा किया कि पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्‍व वाली यूपीए-1 सरकार 2006 में इस प्रस्‍ताव पर पाकिस्‍तान सरकार से बात कर रही थी कि सियाचिन सीमा से दोनों देश आपसी सहमति से अपने-अपने सैनिक हटा लेंगे.

Image result for मनमोहन सोनिया

सबसे बड़ी बात यह है कि कांग्रेस उस पाकिस्तान के साथ समझोता करने की बात कर रही थी जो हमेशा पीठ पर छुरा घोपने को तैयार रहता था.अगर उस वक़्त भारतीय सेना कांग्रेस को नहीं रोकती तो आज सियाचिन पर पिस्टन कब्ज़ा जमा बैठा होता क्योंकि पाकिस्तान वो देश है जो हमेशा पीठ पर बार करता है वो कभी भी अपनी सेना को पीछे नहीं हटाता कारगिल में सबने देखा है क्या हुआ था किस तरह से पाक ने भारत को धोखा दिया था.

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here