बड़ी खबर : रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति बनते ही शुरू किया पहला काम, जिसने उड़ा दिए सबके होश

0
1392

मोदी जी के नेतृत्व में रामनाथ कोविंद देश के 14वें राष्ट्रपति बन गए हैं. एनडीए उम्मीदवार कोविंद 65.65 फीसदी वोट के साथ देश के 14वें राष्ट्रपति निर्वाचित हुए हैं. कोविंद 25 जुलाई को शपथ ग्रहण करेंगे. राष्ट्रपति पद की शपथ ग्रहण करने के बाद रामनाथ कोविंद के सामने अपने कार्यकाल का पहला बड़ा फैसला लेने की चुनौती होगी.आखिर वो पहला काम क्या होने वाला है ?? हालाँकि लोगों के मन में उठे इस सवाल का अभी कोई पुख्ता जवाब तो नहीं है लेकिन हाँ इस बात पर अनुमान ज़रूर लगाये जा सकते हैं.

 

image credit 

बता दें कि बात शुरू होती है सन् 1997 से जब देश में संयुक्त मोर्चे की सरकार हुआ करती थी और मुलायम सिंह यादव रक्षा मंत्री हुआ करते थे. रामनाथ कोविंद जो अब देश के राष्ट्रपति बन गए हैं, उस समय राज्यसभा से सांसद हुआ करते थे. उस समय रामनाथ कोविंद ने मांग उठाई थी कि हेंडरसन ब्रू्क्स-भगत रिपोर्ट को सार्वजनिक किया जाए. इस रिपोर्ट को सार्वजनिक करने का ये नतीजा होता कि इस रिपोर्ट के सबके सामने आने के बाद 1962 के भारत-चीन युद्ध में भारत की हार के कारणों का पता चल जाता लेकिन तब मुलायम सिंह यादव ने यह कह कर हैंडरसन-ब्रुक्स रिपोर्ट को सार्वजनिक करने से मना कर दिया कि हम उसे ऐसे ही सार्वजनिक नहीं कर सकते है, ये एक बहुत ही संवेदनशील मुद्दा है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि 1962 के युद्ध में हार का सामना करने के बाद भारत सरकार ने इस पर एक रिपोर्ट  तैयार की थी लेकिन जो रिपोर्ट तैयार हुई थी वो आखिर गई कहाँ ?? आपको बता दें कि रक्षा मंत्रालय ने उस रिपोर्ट को ये कह कर अलमारी में बंद कर दिया कि ये रिपोर्ट क्लासिफाइड है और इसे यूँ ही सार्वजनिक नहीं किया जा सकता है. लोगों ने कारण जानना चाहा तो बताया गया कि रिपोर्ट में लिखा गया मुद्दा काफी सवेंदनशील है. तब से लेकर अब तक देश में कई सरकारें आयीं लेकिन कभी भी किसी सरकार ने इस रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं किया.

 बताते चले कि हाल ही में भारत के 14वें राष्ट्रपति बनने के साथ ही रामनाथ कोविंद जहाँ वो तीनों सेनाओं के सर्वोच्च कमांडर तो बन ही जायेंगें ऐसे में जायज़ है वो इस रिपोर्ट को मंगवाकर पढ़ भी सकते हैं और इसे सार्वजनिक भी कर सकते हैं. ये तो सिर्फ एक अंदाज़ा भर है, इसका फैसला तो खुद रामनाथ कोविंद जी ही करेंगे राष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद..

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here